शुक्रवार, 30 मार्च 2018

How to Write a Article for Blog or Website in Hindi(blog kyu likhna chahiye hame?) - Hindi Pe Bindi

How to Write a Article for Blog or Website in Hindi(blog kyu likhna chahiye hame?)-Hindi Pe Bindi


hello dosto aaj ham dekhne wale ki How to write an article for blog or website ya blog kyu likhna chahiye hame?doston aaj kis post mein ham baat karane vaale hain ki apane waibsitai aur blog ke lie ek behatareen artichlai kaise likhen! kya hota hai ki ham apana blog aur website to bana lete hain intairnait par bahut saaree jaanakaariyaan mil jaatee hai blog aur website banaane ke lie parantu aisa bahut kam hota hai kee hamen bataaya jae ki ham apanee vebasait aur blog ke lie article aur blog post kaise likhen aur artichlai ko kahaan se dhoondh to doston aaj ke is post mein ham aapako aisa tareeka bataane vaala hai jisase aap kisee bhee topich par ek behatareen artichlai likh sakate hain



How to write an article for blog or website in hindi(blog kyu likhna chahiye hame?)-Hindi Pe Bindi
How to write an article for blog or website in hindi(blog kyu likhna chahiye hame?)-Hindi Pe Bindi


agar aap ek blogger hain to aap yah achchhee tarah se jaanate honge ki google unheen blog post ko sarch injan mein top par laata hai jinaka chontaint uniquai hone ke saath-saath lamba bhee hota hai parantu jab ham blogging kee shurooaat karate hain to hamen nahin pata hota ki ham artichlai ko kis tarah likhe aur us artichlai mein likhane ke lie shabd kahaan se lae


jab ham blogging shuroo karate hain to shuru mein ham 1-2 blog post likh lete hain usake baad hamen problaim aanee shuroo ho jaatee hai ham yah daichidai nahin kar paate ki hamen artichlai kaise likhana hai aur kahaan se likhen vaise aartikal likhana itana aasaan kaam nahin hai kyonki aartikal likhate samay hamen is baat ka dhyaan rakhana padata hai ki hamaare visitor jab hamaaree blog post padhate hain to vah bor na ho aur vah poore artichlai ko dhyaan se padhe is baat ko dhyaan mein rakhakar hee hamen apane aartikal ko likhana padata hai

aapako bata den jab kabhee aap artichlai likhate hain to use is tarah likhana padata hai ki vah logon ko pasand aane ke saath-saath googlai ko bhee pasand aae jisase aapakee blog post googlai mein rank karen aur aapakee waibsitai par traffich badhe aur ham aapako bata den googlai ko vahee artichlai pasand aata hai jo aapake visitor padhana pasand karate hain jab koee visitor aapakee sait par aakar us aartikal ko poora raiad karata hai aur jyaada se jyaada timai jab koee aapakee waibsitai par rahata hai to tab use googlai apane aap hee pasand karane lag jaata hai tab aapaka blog post googal mein rank karane lag jaata hai

to doston aaj ham aapako kuchh aise hee tareeka bataane vaale hain jisakee madad se aap ek behatareen artichlai likh sakate hain aartikal likhana bahut aasaan hai bas aapako isake lie thodee see risarch karanee padatee hai

♦jis kisee topik par aapako blog post likhanee hai usase pahale aap us se railataid 5-6 artichlai ko achchhe se padh le aap chaahe to isase jyaada bhee aartikal padh sakate hain

♦artichlai ko padhane ke baad jo baaten aapako achchhee lage unako notai karen aur jo baat aapako achchhee nahin lage unako bhee notai kar len

♦ab aap apane artichlai ka ek struchturai banae ki aapako kaise aartikal likhana hai aur kahaan par aapako kya bataana hai jisase logon ko padhane mein achchha lage

♦artichlai likhate samay dhyaan rakhen ki aapako apana aartikal apane shabdon mein (apanee bhaasha aur apane tareeke se) bayaan karana hai jo baaten aapako achchhee nahee lagee thee un baaton ko aur achchhe tareeke se likhana hai

♦us topich se railataid jo bhee important information aap usame add kar sakate ho aapako kar denee hai

yaad rakhe:-baiforai writing thai artichlai?
♦aapako koee bhee aartikal ko chopy karake pastai nahin karana hai

♦jis topich ke baare mein aap likhana chaahate hain usake baare mein achchhee tarah raisaiarchh kar usake baare mein padhen

♦artichlai likhane main koee bhee jaldee na karen achchha aur quality chontaint likhen

♦apanee blog post ko apane tareeke aur apane shabdon mein likhe jisase aapaka artichlai uniquai bane

♦aartikal likhate samay us se railataid baaton ko bhee usamen jod kar likhen aisa karake raiadair ko aartikal ke saath jod ja sakata hai



is artichlai ko likhane ka mera uddeshy un logon kee hailp karane ka jinako aartikal likhane mein pareshaanee hotee hai hamen aapako bata dena chaahate hain ki koee bhee cheej kisee mein paidaishee nahin hotee use paida karana padata hai jab aap apane is kaam ko pooree mehanat se karoge to aap ek din behatareen aartikal ko kuchh hee minaton mein likh lenge.

रविवार, 25 मार्च 2018

Top 5 Best Upcoming Smartphones of 2018-2019 - Hindi Pe Bindi

Top 5 Best Upcoming Smartphones of 2018-2019

tech utsaahee logon ke lie[Tech enthusiasts], 2017 ek mahaan varsh tha kyonki yah bezel-less[bezel-less phones] smartphones ka varsh tha. bezel-less[bezel-less phones] phone keval pramukh star tak hee seemit nahin hain kyonki huawaii, lg jaisee kuchh kampaniyon ne pahale hee midrange segment mein bezel-less phone lonch kiya hai. isalie 2018 ke sheersh vaale smartphones kee soochee bahut dilachasp ho rahee hai kyonki vahaan adhik bezel-less smaartafon honge na keval pradarshan balki ham shaanadaar kaimare bhee dekhenge. pichhale saal, Samsung ne Infinity Display ko laakar flagship ke lie designe ka ek naya maanak nirdhaarit kiya tha aur yah janata par jeeta tha aage aane wale flagship phone ke saath jaaree rakhane ke lie is pravrtti kee apeksha karen. is saal dekhenge ek aur naee takaneek, on-screen fingerprint sensor[on-screen fingerprint sensor] ke upar kam kiya gaya hain. yah bezel-less Display smartphone nirmaataon[smartphone makers] ke lie ek badee samasya ka niraakaran karata hai.


टॉप 10 2018-2019 में आने वाले स्मार्टफ़ोन्स-Top 10 Best Upcoming Smartphones of 2018-2019-hindi pe bindi
Top 5 Best Upcoming Smartphones of 2018-2019



isake alaava, tej processors[faster processors], adhik RAM aur bilkul bhee behatar baitaree jeevan jo aapake laptop blush ko banae rakhega, sabhee store mein honge. ham aasha karate hain ki aage aane wale mobile phone visheshakar Midrange Segment ko adhik se adhik shaktishaalee display milega. vaise bhee, ham yahaan pramukh smartphone ke baare mein baat karane ke lie hain. to chalo 2018 ke aane vaale smartphones mein sabase achchhe se aage dekhnge.


Best Upcoming Smartphones of 2018
1. OnePlus 6
jab ham sarvashraishth aagaamaiai smaartafon kai baarai maiin baat karatai hain, to oneplus har kisaiai kai dimaag maiin aat hai kyonki kampanaiai kaival aik bahut hi kam paise vaalai smartphone banaataiai hai. unak navaiainatam flagship smartphone oneplus 5t hai jo 8 gb ram, Snapdragon 835 SOC aur aik bhavy 18: 9 display jaisaiai kuchhh shaanadaar expects QHD display kai saath aat hai. oneplus 6 sai bhaiai ummaiaid hai ki unakai dual kaimar saitap maiin kyooaichhadaiai displai aur optikal imaij sthiraiaikaran kaiai suvidh hogaiai.


OnePlus 6 release date, news, price and leaks-HINDI PE BINDI
OnePlus 6 2018 


OnePlus-6-Edge-concept

Display5.5-inch QHD AMOLED Full-screen display
ProcessorQualcomm Snapdragon 845
RAM8GB
Storage64/128GB
Primary Camera25MP Dual
Secondary Camera16MP
OSAndroid 8.0 Oreo
Battery4000mAh
Expected Launch Date: Q2 2018



2. Huawei P11
Huawei P10 and P10 Plus ko February mein MWC 2017 mein vaapas ghoshit kiya gaya tha. ab yah agale flagship smartphone Huawei P11 ke lie samay hai. aphavaahen pahale se hee is device ke lie satah shuroo kar diya hai. Huawei P11 mein Kirin 970 SOC processor and 8 GB RAM ke saath suvidha hogee. processor 10 nm process prakriya ke tahat kiya jaega. Huawei ne pichhale do saalon mein dual camera mein bahut achchha kaam kiya hai. vishesh roop se, Huawei P9 duniya ka yah dikhaane ke lie pahale two smart cameras mein se ek hai ki kitane achchhe dohare kaimare pradarshan kar sakate hain. ham agale saal aasha karate hain ki ve adhik shaktishaalee flagship smartphone ke saath aaenge.

Huawei P11-HINDI PE BINDI
Huawei P11


Huawei-P11
Display5.8-inch Quad HD curved glass
ProcessorKirin 970 SoC
RAM6GB/8GB
Storage64GB/128GB
Primary CameraDual 12MP
Secondary Camera16MP
OSAndroid O based on EMUI
Battery3300mAh

Expected Launch Date: Q1 2018

3. Nokia 9
yadi aap ek uchch ant smartphone kee entjar kar rahe hain to nokia 9 ko dekhane ke lie pahle dekhne mein se ek hai. mahaan hardware ke saath great vaale handsets vitarit karane ke lie nokia sabase prasiddh kampanee hai. nokia ne pahale hee apane midrange Android smartphone nokia 3, 5, 6 aur uchch ant smartphone nokia 8 ko launch kiya hai. nokia 9 ko 5.5-inch AMOLED 2K display ke saath snaipadraigan 835, 4 GB raim aur 64/128 GB aantarik bhandaaran. boks mein se, divais ko Android 8.0 oreo par chalaane kee ummeed hai nokia apane midrange Android smartphone ke saath achchhee tarah se kar rahee hai aur ham aasha karate hain ki unake uchch ant vaale phon Samsung, google jaise sheersh daavedaaron ke saath pratispardha karane mein saksham honge. nokia 9 ne pahale hee itanee name kamakar ejjat haasil kar lee hai aur yah dekhane ke lie sabase achchha aage aane wali smartphone mein se ek hai.

Nokia 9-HINDI PE BINDI
Nokia 9-HINDI PE BINDI

Expected Specifications of Nokia 9
Display5.7-inch OLED with an 18:9 aspect ratio,2,880 x 1,440 pixels
ProcessorSnapdragon 845,Kryo 385, (4 Kryo 385 Gold cores running at 2.80GHz + 4 Kryo 385 Silver cores running at 1.80GHz)
RAM4GB, 6GB LPDDR4X
Storage64/128GB,128GB UFS 2.1
Primary CameraDual 13MP Carl Zeiss optics
Secondary Camera13MP,8 MP 
OSAndroid 8.0 Oreo
Battery3,500mAh battery
Expected Launch Date: Q1 2019

4. Samsung Galaxy S10 and S10+
Samsung Galaxy S10 concept

Samsung ne pichhale maheene Galaxy S9 and S9 + kee ghoshana kee. devices apane pahle phones s8 aur s8 + kee tarah baahar se bahut hee samaan the. lekin isake andar sabhee naveenatam top lineup apps hain jo har saal kee tarah doosaron ke lie ek naya benchmaark set karate hain. is saal Samsung ka main focus camera par tha. company ne camera ko achcha kar diya hai aur implemented variable aperture laagoo kiya hai jo F/ 1.5 se F/ 2.4 tak ja sakata hai.

agale saal Samsung sunishchit karane ke lie apane in-screen fingerprint technology ko laagoo karane ja raha hai. kuchh naee aphavaahon ke mutaabik, not 9 mein on-screen fingerprint sensor kee suvidha nahin hogee jisamen company pichhale saal se kaam kar rahee hai. isalie ek bada mauka hai ki ham apane aage aane wale  Smartphone Galaxy S10 series mein on-screen fingerprint technology dekhenge.

camera agale saal bhee behatar hoga yah bhee ummeed hai ki Samsung mein 6 gb aur 8 gb ram ke saath latest Snapdragon processor shaamil hoga.

Samsung Galaxy S10 and S10+ -HINDI PE BINDI
Samsung Galaxy S10 and S10+


Expected Specifications of Samsung Galaxy S10 and S10+
Display5.8/6.2-inch Quad HD+ Super AMOLED Infinity display
ProcessorSnapdragon 855
RAM6GB/8GB
Storage64/128/256GB
Primary CameraDual 12MP
Secondary Camera13MP
OSAndroid P
Battery3500mAh
Expected Launch Date: Q1 2019

5.Google Pixel 3
pixels 2 launch karane se pahale, hamane suna hai ki phone ke jitane se three versions ho sakate hain. yah kabhee nahin aaya, aur isake bajaay ham keval do (pictured here) dekha. haalaanki, yadi pixels 2 ke aasapaas ke shuruaatee aphavaahon par vishvaas kiya jaana hai, to pichhale saal HTC ke mobile division ke aanshik adhigrahan ke kaaran, google apane third-generation smartphone ke lie upakaranon ka parivaar chhod sakata hai. droid life dvaara prakaashit vivaran ke anusaar, Mountain View Company kathit taur par ek aur "haee-end" model ke saath do "premium" handsets kee yojana bana rahee hai. isake alaava, google ke nae phone iris scanning ke saath iphone x mein Apple's Face ID technology ke khilaaph ja sakate hain jo mobile bhugataan ke lie upayog karane ke lie paryaapt surakshit hai, na keval unlocking karana. pixles 3 par adhik kee apeksha karen kyonki ham enke ke kareeb jaate hain.

praarambhik aphavaahen bataatee hain ki three pixel phones honge, lekin yah dhyaan rakhen ki yah bhee 2017 mein maamala tha aur hamane keval do nae pixel phones kee ghoshana kee.

droid lafe ke anusaar, alleged codenames include CrossShatch, Alboror and Blueline shaamil hain, haalaanki isamen koee baat nahin hai ki google A, B and C ke roop mein aantarik roop se inake sandarbhon ko baaharee duniya se chhipaega.

agar aisa hota hai, to ham pixels kee tulana mein puraane Nexus phones ke mukaabale mooly nirdhaaran ke saath ek sasta model dekh sakate hain, jo £ 7 9 9 mein pixle 2 xl retailing ke saath kaheen adhik mahanga hai (yadyapi vartamaan mein sirph 69 9 pounds offer par). vaikalpik roop se, aur jaisa ki adhikaansh aphavaahen sujhaav dete hain, teesara model ek ati-uchch-kalpana sanskaran hoga jo ki iphone x ke takkar ka hian.

google jaanata hai ki isake consumers ko cut-down chashma nahin chaahie kyonki sirph ek phone kee ek chhotee screen hai, isalie ham pooree tarah se ummeed karate hain ki Snapdragon 845 processor sabhee pixel 3 model par show chal raha ho. yah ek 7 nm chip hai jo ki tez aur 30 percent adhik kisee bhee isase pahale kee tulana mein kushal hai, ek octa core KIO 385 CPU and four 1.8 GHz low power core milta hian.

Qualcomm's ka naya uper-fast X20 LTE modem banaaya gaya hai, 1 Gbps speed se adhdhik spectra 280 image signal processor, saath hee ek badhaaya spektra 280 imej signal prosesar bhee hai. Qualcomm ne video recording kee kshamata ko altra-echadee tak badha diya hai, aur vibhinn ai sudhaaron mein joda hai.

Chinese social network se ek leak kee gaee chhavi, Weibo is baat kee pushti karata hai, 20 phone soocheebaddh karata hai jo 2018 mein 845 chip ka upayog karega. unamen se, anumaan laga sakte hian ki, pixel 3 hai.

2018 saal ko lounch ho sakata hai, google ne ram ko 6 gb tak utaara hai, jabaki storage 64 gb aur 128 gb par rahane kee sambhaavana hai.


Google Pixel 3: Price, Specifications & Release Date- hindi pe bindi
Google Pixel 3

ham dekhana chaahate hain ki google waterproof (probably upgraded to IP 68 from IP 67)me aur aluminum chassis ko barakaraar rakhe, aur yah sambhaavit hai ki 18: 9 polead display bhee rahega, lekin is baar nae pixels ke andar bhee ek glass fingerprint sensor. ham sasta model mein bhee 18: 9 panels dekhana chaahate hain, aur google ko wireless charging jodane ke lie.

camera google ke lie most important specs mein se ek hai, aur jo pichhale varsh ke pixels phone mein paaya gaya vah sabase achchha hai jisamen aap smartaphone par paenge ham yahaan kuchh sudhaar dekhane kee ummeed karenge, haalaanki mprovements hardware kee bajaay software mein hian.

2017 mein donon modal bas blaik mein aae the, jabaki Pixel 2 XL black end white mein bhee upalabdh tha, aur spasht roop se white aur kinda blue mein pixel 2 ham yahaan bahut vichalan kee apeksha nahin karate hain.

aisa lagata hai ki  HTC Pixel 3 ke peechhe phir se dimaag hoga, ab google ne apane mobile bisiness ko khareeda hai, isalie sakriy edge aur saamane ka saamana kar stereo speakers ek sadame ke roop mein nahin aaenge.
Display18:9 pOLED display   5.5" (13.97 cm)
ProcessorQualcomm Snapdragon 845
RAM6GB/8GB
Storage64/128/256GB
Primary CameraDual 12MP
Secondary Camera13MP
OSAndroid P
Battery3000 mAh
Expected Launch Date: Q4  2018 

मंगलवार, 13 मार्च 2018

What is Internet? - Hindi Pe Bindi

हेलो मरे प्यारे भाइयो और बहनो आज मैं आपको बताने जा रहा हूँ की  इंटरनेट क्या हैं ?इसको किस काम मैंने use करते हैं ये कैसे काम करता है  चलिए देख लेते हैं। 

इंटरनेट क्या है ? इंटरनेट का उपयोग, इंटरनेट का महत्व, history of internet in hindi और internet ki khoj kisne kiya इन सब की पूरी जानकारी मैं आपको इस hindi blog में बहुत ही सरल व सहज भाषा में बताऊंगा. Internet एक महाजाल है. Internet दुनिया का सबसे बड़ा और व्यस्त नेटवर्क है. Internet को हिंदी में ‘अंतरजाल‘ कहते है. अगर सीधे शब्दों में कहे तो दुनिया के कम्प्युटरों का आपस में जुड़ना ही Internet है. जब यह नेटवर्क (Internet) स्थापित हो जाता है तो हम एक विशाल जाल का हिस्सा हो जाते है और उस जाल से जुडें किसी भी कम्प्युटर में उपलब्ध कोई भी सूचना अपने कम्प्युटर में प्राप्त कर सकते है.




इंटरनेट क्या है ? What is internet in hindi
इंटरनेट क्या है ? What is internet in hindi


अब प्रश्न यह कि इस जाल (Internet) से हम जुड़ते कैसे है? सच्चाई यह है कि Internet में कम्प्युटर आपस में जुडे होते है, और यह वैसा ही जैसे हमारे टेलिफोन आपस में जुडे होते है. हमें अपने कम्प्युटर को Internet से जोडने के लिए ‘Internet Service Provider (Internet सेवा प्रदाता) ‘ से Internet कनेक्शन लेना पडता है, क्योंकि ISPs Internet से जुडे होते है. यह हमे Internet से जुडने का एक रास्ता प्रदान करते है. जब हमे यह कनेक्शन मिल जाता है तो हम अपने कम्प्युटर को Internet से जोड सकते है. इस कनेक्शन को अपने कम्प्युटर में Cabel या Wireless के माध्यम से Access किया जाता है. जब हम Internet से जुडे होते है तो यह प्रक्रिया ‘ऑनलाईन‘ कहलाता है. अपने शुरूआत के दिनों में Internet का उपयोग सिर्फ वैज्ञानिकों द्वारा एक दूसरे को रिसर्च पेपर तथा अन्य सूचनाए साझा करने तक सीमित था. लेकिन धीरे- धीरे Internet का विकास होता गया और इसमें नई-नई तकनीक को जोडा गया. जिसका वर्तमान स्वरूप हम आज देखते है. आधुनिक Internet हमारी जीवनशैली का हिस्सा हो गया है. हमारे रोजमर्रा के लगभग सारे कार्य Internet के माध्यम से घर बैठकर किये जाने लगे है. अपने शुरूआत में Internet सिर्फ सूचनाओं के साझा करने तक सीमित था. लेकिन, वर्तमान Internet अपने पैर लगभग हर क्षेत्र में फैला चुका है. चिकित्सा से लेकर दैनिक उपयोग के सामान की खरीदी तक. आइए जानते है Internet के कुछ प्रमुख क्षेत्र जहाँ Internet का उपयोग किया जाता है.


इंटरनेट क्या है / What is internet in hindi 
इन्टरनेट एक दुसरे से जुड़े कई कंप्यूटरों का जाल है जो राउटर एवं सर्वर के माध्यम से दुनिया के किसी भी कंप्यूटर को आपस में जोड़ता है. दुसरे शब्दों में कहे तो सूचनाओ के आदान प्रदान  करने के लिए TCP/IP Protocol के माध्यम से दो कंप्यूटरों के बीच स्थापित सम्बन्ध को internet कहते हैं. इन्टरनेट विश्व का सबसे बड़ा नेटवर्क है. इंटरनेट की खोज के पीछे कई लोगो का हाथ था. सबसे पहले  लियोनार्ड क्लेरॉक (Leonard Kleinrock )ने इंटरनेट बनाने की योजना बनाई बाद में 1962 में J.C.R. Licklider ने उस योजना के साथ, रोबर्ट टेलर (Robert Taylor) की मदद से एक Network बनाया जिसका नाम “ARPANET “ था. ARPANET को  TELNET नाम से 1974  में व्यावसायिक रूप से उपयोग में लाया गया. भारत में इन्टरनेट 80 के दशक में आया.

History of Internet in hindi (इन्टरनेट का इतिहास):
सबसे पहले सन 1969 में अमेरिका के रक्षा विभाग में  Advance Research Project Agency (ARPA) नाम का नेटवर्क लांच किया गया जिसका प्रयोग गुप्त सूचनाओ को भेजने के प्रयोग में लाया गया. सन 1971 में सबसे पहला Email Ray Tomlinson ने भेजा था | जैसे जैसे इसके फायदे का पता चलता गया वैसे वैसे ही इसका इस्तेमाल बढता गया. भारत में इन्टरनेट 80 के दशक मे आया. इंटरनेट का उपयोग आपस में बात चीत कर सकते है नए दोस्त बना सकते है किसी भी फाइल को तुरंत ट्रान्सफर कर सकते है online पढाई कर सकते है घर बैठे शोपिंग कर कर सकते है न्यूज़ पढ़ सकते है मोबाइल, बिजली, phone का बिल जमा कर सकते है. Internet ke labh aur hani in hindi इन्टरनेट के बहुत से फायदे है. जहा आप बैठे बैठे  online banking, बिल, online tv, movie, game, शोपिंग, और पढाई भी कर सकते है वही इसकी कुछ हानियाँ भी है. कुछ लोग इसके आदी हो जाते है और दिन दिन भर इससे चिपके रहते है जिससे उनकी आँखों की रौशनी कम हो सकती है, साथ यह लोगों ही स्मृति यानि याद्दाश्त को भी बहुत प्रभावित करता है साथ ही इन्टरनेट का इस्तेमाल करने से वायरस का भी खतरा रहता और कुछ हैकर आपकी निजी जानकारी को भी चुरा सकते है जो आपके लिए हानिकारक हो सकती है.

What is Android P ?Android P Developer Preview 1: How to Install, Supported Devices, New Features, and More.. - Hindi Pe Bindi

हेलो मरे प्यारे भाइयो और बहनो आज मैं आपको बताने जा रहा हूँ की  What is Android P ?(एंड्रॉइड पी क्या है?) Android P Developer Preview 1: How to Install, Supported Devices, New Features, and More..  चलिए देख लेते हैं। 


एंड्रॉइड पी डेवलपर पूर्वावलोकन 1 (Android P Developer Preview 1):
आपने एक Green रंग का Cartoon को जरुर देखा होगा और शायद आप अच्छी तरह जानते भी होंगे कि इसे हम Android कहते हैं | Android Google का Product है यानी कि Android को Google ने 2007 में निकाला था | आज Android इतना पॉपुलर हो गया है कि जब भी कोई इंसान मोबाइल लेने जाता है तो वह Android मोबाइल ही मांगता है लेकिन क्या आपको पता है Android होता क्या है | अगर आपको Android क्या इसके बारे में बिल्कुल भी जानकारी नहीं है तो घबराइए मत आज हम आपको Android की पूरी जानकारी बताएंगे | ताकि जब भी आप नया मोबाइल खरीदें तो आप समझ पाए Android क्या है ? और Android का कौन सा Version हमें लेना चाहिए |

कैसे स्थापित करें, समर्थित डिवाइस, नई सुविधाएँ, और अधिकएंड्रॉइड पी डेवलपर पूर्वावलोकन पिक्सेल, पिक्सेल एक्स्ट्रा लार्ज, पिक्सेल 2 और पिक्सल 2 एक्सएल पर डाउनलोड किया जा सकता हैप्रकाश डाला गया



What is Android P ? Android P Developer Preview 1: How to Install, Supported Devices, New Features, and More..
What is Android P ? Android P Developer Preview 1: How to Install, Supported Devices, New Features, and More..


एंड्रॉइड पी, हाल ही में मार्च के मध्य में कुछ देर आने की सूचना दी, बस आधिकारिक गया। ऐसा लगता है कि डेवलपर्स को स्टोर में अपनी नई मिठाई का काटने का काम करने के लिए Google जल्दबाजी में है। हालांकि, हमें अभी तक पता नहीं है कि एंड्रॉइड पी मॉनिटर एंड्रॉइड पी (पाई, पैनकेक?) किस प्रकार से चला जाएगा, डेवलपर प्रीव्यू 1 की रिहाई से पता चलता है कि एंड्रॉइड यूजर्स के स्टोर में इसकी काफी कुछ विशेषताएं हैं। यदि आप एंड्रॉइड पी के बारे में और जानना चाहते हैं, रोलआउट प्लान और बीटा प्रोग्राम, पात्र डिवाइस, इंस्टॉलेशन प्रक्रिया और अपडेट के साथ जो कुछ नया है, जैसे महत्वपूर्ण विवरण, यह हमारा वाक्थ्रू है


एंड्रॉइड पी समर्थित फोन (Android P supported phones)





सबसे पहले पहली चीज़ें, एंड्रॉइड पी आधिकारिक रूप से पिक्सेल, पिक्सेल एक्स्ट्रा लार्ज, पिक्सेल 2, और पिक्सेल 2 एक्सएल पर समर्थित होगा। सॉफ्टवेयर एंड्रॉइड इम्यूलेटर पर भी इंस्टॉल किया जा सकता है। हालांकि, कोई सरल ओटीए कार्यक्रम नहीं है जो आप दर्ज कर सकते हैं; डेवलपर्स को अपने डिवाइस पर सिस्टम छवियां मैन्युअल रूप से फ्लैश करना होगा। नेक्सस 5 एक्स और नेक्सस 6 पी उपयोगकर्ताओं के लिए बुरी खबर जैसे Google प्रमुख अपडेट को समाप्त कर रहा है - इन दो फोन और पिक्सल सी टैबलेट के लिए दो साल की गारंटी खत्म हो गई है।

पायदान + मल्टी कैमरा समर्थन:
ऐसा लगता है कि डिस्प्ले कटआउट भविष्य हैं। जब से पिछले साल आईफोन एक्स लॉन्च किया गया था, तब से एंड्रॉइड ओम अपने स्मार्टफोन डिजाइनों के साथ "पायदान" को लेकर चीजों को लेने की कोशिश कर रहे हैं। इस बढ़ती हुई महामारी से निपटने के लिए, एंड्रॉइड पी डिस्प्ले कटआउट्स के लिए समर्थन जोड़ रहा है जो डेवलपर्स को एपस अपलोड करने की इजाजत देगी जो अलग-अलग आकार के कटआउट का समर्थन करते हैं, एसस जेनफ़ोन 5 एस पर की तरह बड़े फोनों की तरह आवश्यक फोन को संकीर्ण कटआउट से लेकर। डेवलपर पूर्वावलोकन 1 भी कटआउट को अनुकरण कर सकता है यदि आप जिस डिवाइस पर ऐप्स का परीक्षण कर रहे हैं वह भौतिक एक नहीं है।

डिस्प्ले पायदान के समर्थन के अलावा, एंड्रॉइड पी डेवलपर पूर्वावलोकन 1 एक नया मल्टी-कैमरा एपीआई जोड़ता है जो डेवलपर्स को दो या अधिक भौतिक कैमरों वाले उपकरणों पर अलग-अलग धाराओं तक पहुंचने की अनुमति देता है। "एपीआई आपको एक तार्किक या फ्यूज़ कैमरा स्ट्रीम को कॉल करने देता है जो स्वचालित रूप से दो या अधिक कैमरों के बीच स्विच करता है।"

निष्पादन (Performance): एंड्रॉइड पी के साथ, Google एआरटी (एंड्रॉइड रनटाइम) में सुधार ला रहा है। तकनीक के विशालकाय ने एआरटी के निष्पादन प्रोफाइल का उपयोग बढ़ाया है जो डेवलपर्स को ऐप का अनुकूलन करने और ऐप कोड के अपव्यय को कम करने की अनुमति देगा। एंड्रॉइड रनटाइम अब डीईएक्स फ़ाइलों को फिर से लिखने के लिए प्रोफ़ाइल जानकारी का उपयोग करेगा, जिसके परिणामस्वरूप सभी क्षुधाों में 11% की कमी का दावा किया जाएगा।


सूचनाएं(Notifications): एंड्रॉइड पर अधिक जानकारी और स्मार्ट जवाब आ रहे हैं। डेवलपर पूर्वावलोकन 1 से पता चलता है कि Google ने विशेषकर मैसेजिंग ऐप के लिए अधिसूचना पैनल में सुधार करने पर काम किया है। एंड्रॉइड पी पर, उपयोगकर्ता अधिसूचना बार से सीधे फ़ोटो और स्टिकर सहित अधिक जानकारी देखने में सक्षम होंगे उपयोगकर्ता को ऐप बंद करने पर उत्तर भी ड्राफ्ट के रूप में सहेजे जा सकते हैं। और, अंतिम रूप से, Google Allo से उधार ली गई स्मार्ट जवाब, प्रासंगिक जानकारी के आधार पर दिए गए उत्तरों के साथ अधिसूचना बार के सही आ रहे हैं जैसे चैट इतिहास, स्थान, और प्रश्न का प्रश्न सूचनाओं को एप्पल के आईओएस पर दिखने वाले माउस के जैसा दिखने वाला एक थोड़ा सा गोल आकार मिलता है।


सुरक्षा (Security): एंड्रॉइड पी निष्क्रिय ऐप्स को माइक और कैमरे तक पहुंचने से रोकता है। अगले एंड्रॉइड वर्जन एक प्रमुख नई सुरक्षा सुविधा को जोड़ता है, जो कि पृष्ठभूमि में चलने के दौरान सोशल मीडिया क्षुधा के आसपास की सभी अफवाहों को छोड़कर उपयोगकर्ताओं पर जासूसी कर सकती है। डेवलपर पूर्वावलोकन 1 माइक्रोफोन और कैमरे तक पहुंच को अवरुद्ध करेगा, जब कोई ऐप के यूआईडी निष्क्रिय होकर निष्क्रिय हो जाता है, जब ऐप को निष्क्रिय स्थिति में ऐप द्वारा अनुरोध किया जाता है।


डिजाइन (Design): एंड्रॉइड पी में कई डिज़ाइन बदलाव हैं। उदाहरण के लिए, एंड्रॉइड के वैकल्पिक डिस्प्ले - एम्बियंट डिस्प्ले - स्टॉक एंड्रॉइड पर अंत में रीयल-टाइम बैटरी प्रतिशत दिखाने की क्षमता प्राप्त होगी। कुछ साल पहले एंड्रॉइड नोगाट में त्वरित सेटिंग्स को अपडेट करने के बाद, Google त्वरित सेटिंग्स पैनल में ऊर्ध्वाधर स्क्रॉलिंग जोड़ रहा है, और स्क्रॉल शुरू होने से पहले एक अतिरिक्त पंक्ति (एंड्रॉइड ऑरियो पर तीन की तुलना में चार)। हालांकि, यह भी बुरी खबर है जैसा कि त्वरित सेटिंग दिखता है, अब उपयोगकर्ताओं को विकल्प विस्तारित करने की इजाजत नहीं दी जाएगी जिससे कि त्वरित सेटिंग्स मेनू से वाई-फाई नेटवर्क या ब्लूटूथ डिवाइस को स्विच करने की सुविधा समाप्त हो जाएगी।

एंड्रॉइड पी डेवलपर प्रीव्यू 1 पर अन्य फीचर्स, डिफॉल्ट द्वारा रिंगर वॉल्यूम की बजाए मीडिया वॉल्यूम बदलते हुए वॉल्यूम बटन शामिल करता है। परेशान न करें अब केवल पहले विकल्पों की बजाय ऑन-ऑफ टॉगल होगा जैसे कि साइलेंट, केवल अलार्म, और प्राथमिकता। हालांकि उपयोगकर्ता अभी भी समय प्रतिबंध सेट करने में सक्षम होंगे।

हाल ही में एक नया स्क्रीनशॉट संपादन उपकरण के साथ Google ऐप को अपडेट करने के बाद, माउंटेन व्यू दिग्गज ने "मार्कअप" नामक एक नया संपादक जोड़ा है हालांकि, यह सुविधा केवल पिक्सल 2 और पिक्सल 2 एक्सएल पर ही उपलब्ध है। अन्य स्क्रीनशॉट समाचार में, पावर बटन को अब पॉवर ऑफ और रीस्टार्ट बटन के बगल में एक नया स्क्रीनशॉट बटन मिलता है। हालांकि, आप इसे सक्रिय करने के लिए पुराने पावर + वॉल्यूम डाउन कॉम्बो का उपयोग कर सकते हैं।

नई ऑटोफिल एपीआई जारी की गई हैं जो एंड्रॉइड पी पर ऑटोफिल सुविधा का उपयोग करने के लिए अधिक तृतीय-पक्ष पासवर्ड प्रबंधक ऐप को अनुमति देगा।

एंड्रॉइड पी कुछ अन्य डिजाइन परिवर्तन भी जोड़ता है; समय अब ​​स्थिति पट्टी के बाईं ओर दिखाया जाएगा। सॉफ्टवेयर आईईईई 802.11 एमसी के लिए समर्थन जोड़ता है जो कि ऐप्स को डिवाइस की दूरी को पास के वाई-फाई पहुंच बिंदुओं को मापने और एक प्रभावी तरीके से स्थान निर्धारित करने की अनुमति देता है। और, अंत में, एंड्रॉइड पी के डेवलपर पूर्वावलोकन 1 में एचडीआर वीपी 9 वीडियो और हेइफ़ छवि प्रारूप के लिए समर्थन जोड़ा गया है।

गुरुवार, 8 मार्च 2018

What is Google Adsense Auto Ads? - Hindi Pe Bindi

हेलो मरे प्यारे भाइयो और बहनो आज मैं आपको बताने जा रहा हूँ की  What Is Google Adsense Auto Ads?(Google Adsense Auto Ads क्या हैं? )Google Adsense Auto Ads को कैसे लगये?Auto Ads कैसे copy-paste करे? चलिए देख लेते हैं। 


What Is Google Adsense Auto Ads(Google Adsense Auto Ads क्या हैं )Google Adsense Auto Ads को कैसे लगये
What Is Google Adsense Auto Ads?(Google Adsense Auto Ads क्या हैं? )Google Adsense Auto Ads को कैसे लगये?

Google Adsense ने अपने entire world's पर पूरी दुनिया के Adsense प्रकाश व्यवस्था को दबाया है। यह हर महीने या आसपास कुछ नया या कुछ नया करने के लिए प्रयोग किया जाता है। यह पोस्ट के द्वारा से आप हिंदी में Google Adsense Auto Ads जानकारी की एक नई जानकारी पा सकते हैं। Google ने फिर से सर्वश्रेष्ठ विज्ञापन भविष्य और उपयोगकर्ता Ingagment के लिए ऑटो विज्ञापन विकल्प चुना गया है, वास्तव में प्रकाशक राजस्व वृद्धि और वेबसाइट आगंतुकों को बेहतर अनुभव प्रदान करने के लिए desgin  किये गए हैं , जो की एअर्निंग के लिए अच्छा हैं। 



What Is Google Adsense Auto Ads?(Google Adsense Auto Ads क्या हैं? )
What Is Google Adsense Auto Ads?(Google Adsense Auto Ads क्या हैं? )

Google ऐडसेंस सभी वितरकों के लिए अन्य प्रचार कार्यक्रमों में उत्कृष्ट है। दरअसल, सभी प्रचार प्रणालियों के बाद भी, उदाहरण के लिए, ऐडसेंस, सभी को Google ऐडसेंस का उपयोग करने की आवश्यकता है। साथ ही, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि इन विभिन्न ब्लॉगर्स की तरह अलग-अलग ट्रस्ट कैसे सोचते हैं। वर्तमान में हम GoogleAuto प्रचार के पूर्ण व्यसन के बारे में कैसे पता लगाते हैं।

Google Auto Ads क्या हैं ?
Google AdSense टीम ने 21 फरवरी 2018 से Google ऑटो विज्ञापन दोबारा शुरू करने के लिए सभी को फिर से नया करने के लिए लॉन्च किया है। ऑटोमोटिव विज्ञापन के लिए इस मामले का विज्ञापन किया जा रहा है, यह एडसेंस के लिए अब भी और सभी प्रकाशकों के लिए बेहतर विकल्प प्रदान कर सकता है। असल में, Google विज्ञापन ऑटो विज्ञापन का उपयोग करने के तरीके को बदल रहा है, यह समय पर निर्भर करता है। Google ऑटो विज्ञापन एक नया विज्ञापन प्रयोग है, जो एक नया विज्ञापन प्रयोग है, जो एक विशेष पोस्ट दिखाने जा रहा है, और उस पोस्ट में ऑटो प्रकार का विज्ञापन प्रदर्शित किया जा रहा है और यह प्रदर्शित किया जा रहा है और कोई भी उपयोगकर्ता मशीनिंग लर्निंग मशीन है प्रदर्शित करने के लिए बनाया गया। Google Adsense ऑटो विज्ञापन सितंबर 2017 में बीटा भिन्नता के लिए लॉन्च किया गया था, जो अभी भी AdSense प्रकाशक के लिए उपलब्ध है। इतना नहीं है कि Google को यह भी कहना है। कि ऑटो का उपयोग कर प्रकाशकों के ऐडसेंस राजस्व में 5 से 10 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। कई ब्लॉगर्स के लिए सबसे बड़ी चिंता सही विज्ञापन प्लेसमेंट, विज्ञापन अनुकूलन और बेहतर उपयोगकर्ता प्रयोग है। इन सभी चिंताओं से छुटकारा पाने के लिए ऑटो विज्ञापन बनाया गया है। यह स्वयं को बेहतर विज्ञापन प्लेसमेंट बनाने के लिए कृत्रिम बुद्धि का उपयोग करता है, जो सभी पाठकों के लिए ऑटो विज्ञापन प्रदर्शन प्राप्त करता है। यदि आपके पास कोई सवाल है कि अंतिम ऑटो विज्ञापन मुझे कौन कॉन्स विज्ञापन प्रारूप होट दिखा रहा है, तो आप दिखाते हैं कि हर प्रकार का विज्ञापन प्रदर्शित होता है जो नीचे दिया गया है।

Google Auto Ads मे प्रदर्शित होने वाले Advertisement:
गूगल द्वारा हाल ही मे लौंच की गयी ऑटो एड्स सभी तरह के Multiple Ad Units पाठको के लिए प्रदर्शित कराती जिनमे प्रमुख सभी निचे दी गयी यूनिट्स को एक बार Auto Ads Setup के दौरान On करना है। 1. Text and Display Ads. 2. In-feed Ads. 3. In-article Ads. 4. Matched Content Ads. 5. Anchor Ads. 6. Vignette Ads. मतलब इस तरह से सभी Google Ads पर Auto Ads अपने आप सही समय पर प्रदर्शित हो जाती है जिससे आपको अलग-अलग जगहों पर Ad Unit Create करके Ud Unit Code Paste करने की जरुरत नही होगी. अब यह कौनसे ब्लॉग पर कितना सही वर्क करेगी यह समय ही बता सकता है।

Google Adsense Auto Ads Ke Fayde:
देखा जाये तो Google Auto Ads का निर्माण गूगल अद्सेंस द्वारा निचे दी गयी तीन स्टेप्स को ध्यान मे रखकर बनाया गया है जो निचे दी गयी है. एक बार आप इन्हें ध्यान से पढ़ ले आपको Auto Ads Ki Puri Jankari  हो जाएगी। 
👉 Better Optimization: Machine Learning Techniques का इस्तेमाल करके प्रदर्शित किये गए Auto ads ना की सिर्फ बेहतर Optimization का इस्तेमाल करता है बल्कि Good User Experiment भी देता है। 
 👉 Increase Revenue opportunities: Auto ads अपने आप ही सही जगह और यूजर को देखते हुये उपलब्ध Ad Display करेगा जिससे सभी Adsense Publishers Revenue Increase होने मे मदत मिलेगी। 
 👉 Easy to use: Auto Ads इस्तेमाल करने मे भी बेहद आसान है. आपको वही घिसी-पिटी प्रोसेस करने की जरुरत नहीं है जिसमे अलग-अलग Ad Unit बनाओ और उन्हें सही जगह पर Ad Placement करो। बल्कि सिर्फ One Instant Setup करो और एक ही कोड को Automatically Get New Formate की मदत से वेबसाइट की <head> के निचे लगा दे जिसे बाद मे बदलने की भी जरुरत नही होगी। अब आपको पता चल गया होगा की Auto Ads क्या है? चलिए अब जानते Adsense Auto Ads Setup Kaise Karate Hai? किस प्रकार से आप गूगल एड् इस्तेमाल कर सकते है।

Google Adsense Auto Ads से जुड़े जरुरी सवाल? बाकि Publishers और गूगल की तरह हम भी Auto Ad Setup की जानकारी से पहले Adsense Publishers द्वारा सबसे ज्यादा पूछे जाने वाले सवाल पर हम प्रकाश डालना चाहते है जो निचे दिए गए है। 
 👉 क्या हम अपने Mannual Type से बनाये गए Ads Unit अब इस्तेमाल कर सकते है? 
 👉 जवाब - जी हा बिलकुल आपको पहले अपने मैन्युअल रूप से बनाये गए Ad Unit Code निकालने की कोई जरुरत नही है. बल्कि इन्ही एड्स यूनिट को ध्यानमे रखते हुये Google Auto Ads सही Advertisment Display करेगा। 
 👉 अगर हम Mannual Type से बनाये गए Ads Unit को हटा देते है तो क्या हमें इससे नुकसान होगा? 
 👉 जवाब - नही अगर आप Adsense Auto Ads Setup करने के बाद आपके पहले एड् यूनिट को हटा भी देते है तो कोई नुकसान नही होगा. लेकिन इससे आपकी Adsense Earning पर असर पढ़ सकता है. क्योकि समय पर कोई Ad Display ना हो तो उस समय यह Old Ad Unit अपना काम कर सकती है। ध्यान रहे यह सिर्फ नोर्मल ब्लॉग के लिए AMP Blogs के लिए नही. अगर आप Google Accelareted Mobile Pages इस्तेमाल करते है तो AMP Auto Text Display Ads Lab गूगल की ऑफिसियल जानकारी चेक करे. तो इस प्रकार से आपके मन मे आने वाले सवालो को भी हमने आर्टिकल मे कवर कर लिया है जिससे हमारे पाठको को कोई दिक्कत ना उठानी पढ़े. चलिए अब जानते है Adsense Auto Ads Setup Step By Step कैसे करते है।
Google Adsense Auto Ads Setup कैसे करते है?


What Is Google Adsense Auto Ads?(Google Adsense Auto Ads क्या हैं? )
What Is Google Adsense Auto Ads?(Google Adsense Auto Ads क्या हैं? )

1. सबसे पहले अपना Google Adsense Account Login करे। 
2. गूगल एडसेंस लॉग इन होने पर आपके Login Dashboard मे निचे दी गयी इमेज की तरह Switch To Auto Ads का ऑप्शन दिखाई देगा।
3. Auto Ads के लिए Get Started पर क्लिक कीजिये, (या फिर सीधे My Ads - Auto Ads के ऑप्शन पर क्लिक करिए। )
4. जैसे ही आप Get Started पर क्लिक करेंगे आपके सामने दूसरा ऑप्शन आएगा जो निचे इमेज मे दिखाया है।
5. अब Get Started पर क्लिक करना है।
6. आगे आपके सामने अलग-अलग प्रकार के सभी Ad Unit Names जैसे Text & display ads, In-feed ads, In-article ads, Matched Content, Anchor Ads and Vignette ads यह सभी Adsense Ad Format दिखाई देंगे जिसमे आपको सभी Select कर लेने है जिससे सही जगह पर सही Ads प्रदर्शित हो सके।


What Is Google Adsense Auto Ads(Google Adsense Auto Ads क्या हैं )
What Is Google Adsense Auto Ads(Google Adsense Auto Ads क्या हैं )

7. आगे Automatically Get New Formates के चेकबॉक्स पर टिक करिए। 8. Save बटन को दबाकर आगे बढे। इस प्रकार से आपने पहला स्टेप पूरा कर लिया है अब आपको दुसरे स्टेप मे सिर्फ एक कोड आपकी वेबसाइट के HTML Section के <;head> पेस्ट करना है जिसके बाद आपका Auto Ads Perfect Work करने लगेगा। 1. जैसे ही आप Save पर क्लिक करेंगे आपके सामने Next Step पर निचे दी गयी इमेज की तरह खुलेगी जिसमे आपको एक Auto Ads Ad Unit Code मिलेगा वह Copy Code Snipped पर क्लिक करके Copy करे।


What Is Google Adsense Auto Ads(Google Adsense Auto Ads क्या हैं )
What Is Google Adsense Auto Ads(Google Adsense Auto Ads क्या हैं )

2. लास्ट स्टेप मे इस कोड को आपके ब्लॉग की Theme के Header.php के & <head> के निचे या <body> के ऊपर पेस्ट करना है। 3. जैसे ही आप Auto Ad Code को सही जगह पेस्ट कर देंगे निचे इमेज मे दिखाए अनुसार Done पर क्लिक करे। 4. आखिर मे OK, GOT IT पर क्लिक करके Google Auto Ads Setup ख़त्म हो जायेगा।



What Is Google Adsense Auto Ads?(Google Adsense Auto Ads क्या हैं? )
What Is Google Adsense Auto Ads?(Google Adsense Auto Ads क्या हैं? )

ध्यान रहे Setup Auto Ads पर क्लिक करने के बाद आप फिरसे पहले स्टेप पर जायेंगे जहापर पुरानी प्रोसेस के अनुसार ही आप किसी Ad Unit Create करने के बाद हटाना या बदल सकते है।  अगर आप कुछ बदलाव करना चाहते है तो simply अपने Adsense Dashboard के My ads - Auto ads पर जानकार कर सकते है। दूसरी बात NEW URL Group यह Advanced URL Settings करने का ऑप्शन है जिसमे Domains, Subdomains, Site Pages etc Create कर सकते है और किसी Particular Auto Ads Performance को चेक कर सकते है। Congratulations..! इस प्रकार से आपने Google Auto Ads Setup Successfully कर लिया है. आगे आपको कुछ करने की जरुरत नही होगी सिर्फ 20-30 मिनट तक इंतजार करे आपकी वेबसाइट पर गूगल ऑटो एड Perfect Work करने लगेंगे अगर आपने सही जगह पर Code Placement कर लिया हो। अगर फिर भी आपको Google Auto Ad Setup करने मे कोई समस्या आ रही है तो आप निचे दिए गए Video को देखे जिससे आपको पूरा Practical देखने को मिल जायेगा।  इस प्रकार से आप आसान तरीके से Google Adsense Auto Ads Setup कर सकते है. आशा करते है Google Auto Ad क्या है और Google Adsense Auto Advertisement Setup कैसे करते है यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा. आपका भी Google Auto Ads Experiment आप हमारे साथ शेयर कर सकते है. फिर भी आपके गूगल ऑटो एड्स के बारे मे कोई सवाल है तो आप निचे कमेंट कर सकते है. इसी प्रकार की जानकारी के लिए आप ब्लॉग को सब्सक्राइब कर सकते है. आर्टिकल आपको पसंद आया हो तो सोशल मीडिया मे शेयर जरुर करे। 

रविवार, 4 मार्च 2018

What is Google Files Go app? - Hindi Pe Bindi

हेलो मरे प्यारे भाइयो और बहनो आज मैं आपको बताने जा रहा हूँ की  What is Google Files Go app?(Google Files Go app क्या हैं?)Google Files Go app से Phone का Storage Space कैसे Free करे?चलिए देख लेते हैं।


What is Google Files Go app?(Google Files Go app क्या हैं?)Google Files Go app से Phone का Storage Space कैसे Free करे?
What is Google Files Go app?(Google Files Go app क्या हैं?)Google Files Go app से Phone का Storage Space कैसे Free करे?


Google Files Go App एक ऐसा Android storage manager हैं। जो Phone के सभी copy, Cache documents को identify करके erase किया जा सकता हैं और Performance भी बढ़ जाता हैं। दोस्तों आज हम आप लोगों को एक ऐसे programming, google records go application के बारे में बताने वाले है, जिससे आप अपने फ़ोन के कचरा को बड़ी ही आसानी से साफ़ कर सकते है। बहुत से ऐसे एंड्राइड client होंगे जिनका फ़ोन स्लो हो गया होगा, जिससे बार फ़ोन के हैंग होंगे से परेशान होंगे, और आपके फ़ोन के Memory Card या Internal Storage का Problem का स्थाई समाधान हो सकता है. इस App को Google ने Android telephone को Optimize करने के लिए बनाया है। वैसे तो google ने इसे android oreo के लाइट rendition android goके लिए बनाया है. लेकिन यदि आपके पास android lolipop 5.0 या इससे ऊपर के वर्शन है तो आप इसका इस्तेमाल जरुर कर सकते है।



What is Google Files Go app?(Google Files Go app क्या हैं?)Google Files Go app से Phone का Storage Space कैसे Free करे?
What is Google Files Go app?(Google Files Go app क्या हैं?)Google Files Go app से Phone का Storage Space कैसे Free करे?

What is Google Files Go app?(Google Files Go app क्या हैं?)
दरअसल Files Go एक Phone Storage Manager App है. जो फ़ोन के interior और outside दोनों memory को oversee करता है. इसकी सहायता से आप अपने फ़ोन के space को free कर सकते है, इसके साथ ही आप copy records को erase भी कर सकते है। इस documents go application में Data reinforcement, File Sharing और Smart Recommendation जैसे Feature भी मिलते है. किसी भी portable cleaner application के सभी include इसमे मिलते है।


Phone का storage Space कैसे Free करे?
फ़ोन के स्टोरेज space को free करने के लिए सबसे पहले आप इसे google play store से इसे इंस्टाल करें. इनस्टॉल करने के बाद जैसे ही आप इसे ओपन करेंगे documents go का Smart Recommendation Feature आपके फ़ोन के सभी undesirable Storage के बारे में जानकारी दे देगा और आप इसके Home Screen से ही सभी Duplicate Files और Unwanted Files को Remove करके storage room को Free कर सकते है। आप records go की सहायता से अपने application stockpiling को भी oversee कर सकते है. जैसे की कोई भी application कितना मेमोरी इस्तेमाल कर रहा है, reserve में कितना memory utilize कर रहा है. और इस reserve memory को clear करके फ़ोन के execution को बढ़ा सकते है।


Google Files Go में  File Sharing और Storage Cleaner दोनों एक साथ:
अभी तक आप File Sharing और Storage Cleaner के लिए दो application का इस्तेमाल कर रहे थे. लेकिन यदि आप अपने फ़ोन में records go को इंस्टाल कर लिया तो इस एक ही application की मदद से आप Phone का Space भी free करने के साथ ही एक फ़ोन से दुसरे फ़ोन ,में document भी exchange कर सकते है। कई बार ऐसा होता है की हम कोई application इंस्टाल करते है, और बाद में जरुरत ख़तम हो जाये तो उसे डिलीट कर देते है. लेकिन हम यह भूल जाते है कि उस application की कुछ documents, Phone में spare रहता है और इससे Phone सही से काम नहीं करता है। लेकिन यदि हम अपने फ़ोन में इस google records go का utilize करते है, जो एक capacity director भी है तो हम uninstall application के सभी documents को भी erase कर सकते है। जिससे हमारे फ़ोन की स्पीड और execution बढ़ जाएगी। Conclusion यदि आप यह चाहते है की आपके फ़ोन की execution बढ़ जाये और Phone Storage oversee भी हो जाए तो आप को इसे अपने फ़ोन में जरुर uninstall  करना चाहिए।



What is Google Files Go app?(Google Files Go app क्या हैं?)Google Files Go app से Phone का Storage Space कैसे Free करे?
https://play.google.com/store/apps/details?id=com.google.android.apps.nbu.files&hl=en

play store से अभी तक 10 लाख से भी ज्यादा लोगो ने downloads कर लिया है. और इसका rating 4.6 star है. मुझे उम्मीद है की आज का यह पोस्ट google documents go application से Phone का Storage Space कैसे Free करे? आप लोगो को जरुर पसंद आया होगा. इसे आपप्नेमित्रो के साथ जरुर शेयर करें ताकि वह भी अपने फ़ोन की execution को बढ़ा सके और telephone stockpiling को oversee कर सके।